गृभगृह की मूर्ति में भगवान राम का चेहरा, 1 आकर्षक मुस्कान और तेज होगा।

राम

22 जनवरी 2024 को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होगी। पहले गर्भगृह में भगवान राम की मूर्ति की पहली तस्वीर सामने आई है। गर्भगृह से कुछ चित्र पहले सोशल मीडिया पर सामने आए थे। भगवान का चेहरा इसमें ढका हुआ था। हालाँकि, वर्तमान तस्वीर में भगवान का चेहरा स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। गौरतलब है कि कर्नाटक के प्रसिद्ध मूर्तिकार अरुण योगीराज द्वारा निर्मित ‘रामलला’ की मूर्ति की मूल प्रतिष्ठा अयोध्या में बनाए गए विशाल मंदिर में लगाई जाएगी।

भगवान राम की काले पत्थर की मूर्ति, जो गर्भगृह में स्थापित है, की आंख पर पीले रंग का कपड़ा बांधा गया है। गुलाब के फूलों से मूर्ति को सजाया गया है। यह चित्र खड़ी मुद्रा में है। पिछली रात मंदिर में 51 इंच की रामलला की प्रतिमा आई, जो मैसूरु के मूर्तिकार अरुण योगीराज ने बनाई थी। प्राण प्रतिष्ठा समारोह के मुख्य आचार्य अरुण दीक्षित ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि अपराह्न में वैदिक मंत्रोचार के बीच भगवान की प्रतिमा गर्भगृह में रखी गई।

राम

“अयोध्या में जन्मभूमि स्थित राम-मंदिर में आज दिन में 12:30 बजे के बाद मूर्ति का प्रवेश हुआ”

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने “X” पर पोस्ट किया। दोपहर 1:20 बजे यजमान द्वारा प्रधानसंकल्प होने पर वेदमन्त्रों की ध्वनि ने मंगलमय वातावरण बनाया। बृहस्पतिवार को मूर्ति के जलाधिवास तक की प्रक्रिया पूरी हुई। 19 जनवरी शुक्रवार को सुबह नौ बजे एक अरणिमन्थन से आग लगेगी। द्वारपालों द्वारा सभी शाखाओं का वेदपारायण, देवप्रबोधन, औषधाधिवास, केसराधिवास, घृताधिवास, कुण्डपूजन, पञ्चभूसंस्कार और उसके पूर्व गणपति आदि देवताओं का पूजन किया जाएगा।”

CM योगी आदित्यनाथ ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियों का निरीक्षण किया। आपको बता दें कि पुलिस अयोध्या में होने वाले रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम और आगामी 26 जनवरी को लेकर बहुत सतर्क है। धारा 144 गाजियाबाद और नोएडा में लागू है। ताकि कोई अप्रिय घटना न हो, जगह-जगह चेकिंग अभियान और पुलिस की पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है।
Read more
Read more

Shares:
Post a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *