कटनी में बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि, कलेक्टर के पहुंचते ही किसान सीने से लगकर रो पड़ा

कटनी। एमपी के कई जिलों में मौसम की मार से जहां लोग परेशान है वहीं किसान भी चिंतित हैं। कई जगह बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसलें तबाह हो गई हैं। कटनी जिले में भी हुई ओलावृष्टि से कई गांव में किसानों की फसलें खराब हुई हैं। इस बात की जानकारी लगते ही कटनी कलेक्टर ने कुछ गांव का दौरा किया।

चना, मसूर, गेहूं की फसलें खराब
कटनी जिले के कई ग्रामों में ओलावृष्टि ने जमकर कहर बरपाया है। ओलावृष्टि से चना, मसूर, गेहूं एवं सब्जियों की फैसलें खराब हुई हैं। मंगलवार सुबह अचानक बेमौसम बारिश के साथ ओलावृष्टि ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। कलेक्टर ने ओला प्रभावित कई गांव का दौरा किया कलेक्टर जुझारी गांव पहुंचे और मथुरा प्रसाद यादव के खेत का जायजा लिया यहां पर कई किसान देखते ही देखते इकठ्ठे हो गए और कलेक्टर से मुआवजे की मांग करने लगे इसी दौरान किसान मथुरा प्रसाद यादव रोने लगा और कलेक्टर के गले लग गया।

राजस्व विभाग को सर्वे के निर्देश
कलेक्टर अवि प्रसाद ने किसानों को ढांढस बंधाया और आश्वस्त किया कि संकट की इस घड़ी में सरकार और प्रशासन उनके साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि किसान हौसला रखें उनकी हरसंभव मदद की जाएगी बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि से फसलों के नुकसान की जानकारी के लिए राजस्व अमले को निर्देश दिए गए हैं। फसल क्षति के आकलन के पश्चात शासन के नियमानुसार मुआवजा राशि वितरित की जाएगी पटवारियों को फसल नुकसान का शीघ्र सर्वे करने तथा रिपोर्ट की जांच एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और राजस्व निरीक्षक को स्वयं करने के निर्देश दिए।

Shares:
Post a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *