मालवांचल यूनिवर्सिटी के इंडेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेस द्वारा प्रशिक्षण शिविर आयोजित

इंदौर। मालवांचल यूनिवर्सिटी के इंडेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेस द्वारा विभिन्न एग्रीकल्चर कोर्स संचालित किए जा रहे हैं। मध्य भारत के सबसे बड़े चिकित्सा शिक्षा समूह इंडेक्स समूह की चिकित्सा शिक्षा के बाद कृषि के क्षेत्र में यह अभिनव पहल है। इसके अंतर्गत बीएससी एग्रीकल्चर कोर्स के विद्यार्थियों को प्रशिक्षण शिविर में विभिन्न तरह की फसलों से लेकर कृषि के क्षेत्र की नई तकनीक के बारे में जानकारी दी जा रही है।

मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार सहित विभिन्न प्रदेशों के विद्यार्थियों को संस्थान द्वारा खासतौर पर कृषि का व्यावहारिक प्रशिक्षण देने के उद्देश्य से विभिन्न कार्यक्रमों की शुरुआत की गई। इसमें विभिन्न फसलों के साथ सब्जियों की खेती के बारे में सहायक निदेशक डॉ. राजेंद्र सिंह, इंडेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेस, प्रभारी अजय कुमार गौड़, विभागाध्यक्ष डॉ. शिवम कुमार द्वारा विद्यार्थियों के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया।

अजय कुमार गौड़ ने बताया कि इंडेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेस के आने के बाद खुड़ैल, डबल चौकी, कन्नौद और हाटपिपलिया सहित आसपास के कई ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थियों को इंदौर के संस्थानों में कोर्सेस करने जाने की जरूरत नहीं होगी। उन्हें मालवांचल यूनिवर्सिटी द्वारा चलाए जा रहे बीएससी एग्रीकल्चरल कोर्सेस के जरिए खेती की नई तकनीक के बारे में जानने का मौका मिल रहा है। इससे कृषि अधिकारी से लेकर विभिन्न तरह के करियर में जाने का अवसर भी ग्रामीण छात्रों को मिल सकेगा। संस्थान द्वारा भविष्य में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों के लिए फसलों में होने वाले नुकसान के बारे में जागरूकता शिविर भी लगाया जाएगा।

इंडेक्स समूह के सुरेशसिंह भदौरिया, वाइस चेयरमैन मयंकराज सिंह भदौरिया, मालवांचल यूनिवर्सिटी के प्रभारी कुलपति डॉ. संजीव नारंग, रजिस्ट्रार डॉ. लोकेश्वर सिंह जोधाणा के मार्गदर्शन में विभिन्न कोर्सेस संचालित किए जा रहे

Shares:
Post a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *